घमंड की बीमारी(Vanity disease)

घमंड की बीमारी(Vanity disease)

घमंड की बीमारी(Vanity disease)

शराब जैसी है साहब !

खुद को छोड़कर सबको
पता चलता है कि
इसको चढ़ गयी है ॥

क्रोध और अहंकार जीवन मे (Anger and ego in life)

क्रोध और अहंकार जीवन मे (Anger and ego in life)

“क्रोध और अहंकार जीवन मे (Anger and ego in life) क्रेडिट कार्ड की तरह होते है, अभी जितना उपयोग करेंगे बाद मे, भुगतान ब्याज के साथ करना पड़ेगा””

જીવનનો તર્ક (Fact Of Life)

જીવનનો તર્ક (Fact Of Life)

Fact Of Life

એક જગ્યાએ સરસ
વાક્ય લખ્યું હતું…
સાહેબ….

જો દુનિયામાં છોડવા જેવું કંઈ હોય,

તો પોતાને

नफरतों में क्या रखा हैं (What are you in disdain)

नफरतों में क्या रखा हैं (What are you in disdain)

” नफरतों में क्या रखा हैं ..,(What are you in disdain) मोहब्बत से जीना सीखो.., क्योकि ये दुनियाँ न तो हमारा घर हैं … और … न ही आप का …

Read More “नफरतों में क्या रखा हैं (What are you in disdain)”

दो  ही  चीजें  ऐसी  हैं(Two things are the same)

दो ही चीजें ऐसी हैं(Two things are the same)

दो ही चीजें ऐसी हैं(Two things are the same)
जिन्हें देने में किसी का
कुछ नहीं जाता….

एक – मुस्कुराहट
और दूसरी – दुआ

हमेंशा बांटते रहिए !!
हमेंशा बढ़ती रहेंगी.

हाल पूछ लेने से(By taking the condition)

हाल पूछ लेने से(By taking the condition)

हाल पूछ लेने से(By taking the condition)

कौन सा हाल ठीक हो जाता है…

बस तसल्ली हो जाती हे कि,इस भीड़भरी दुनिया में कोई अपना भी है…💞

घर छोटा हो या बडा ,अगर मिठास ना हो तो ,
इंसान तो क्या ,चिटियाँ भी नही आती…..!!!

झूठ में आकर्षण होता है,(attraction in lies)

झूठ में आकर्षण होता है,(attraction in lies)

झूठ में आकर्षण होता है,(attraction in lies)
पर स्थिरता “सत्य” में ही होती है.
शब्दो का वजन तो बोलने वाले के
भाव पर आधारित है


तलाश जिंदगी की थी (exploring life)

तलाश जिंदगी की थी (exploring life)

तलाश जिंदगी की थी (exploring life)
दूर तक निकल पड़े,

जिंदगी मिली नही
तज़ुर्बे बहुत मिले,

किसी ने मुझसे कहा कि…
तुम इतना *ख़ुश