कुछ पता नहीं कब शाम आ जाए | Sad golden thought about life | Sad Life thot hindi, Sayings and Quotes, sad status thot in hindi


Sad thought about life thot in hindi

Sad Life thot in hindi, Sayings and Quotes, sad status

कुछ पता नहीं ज़िन्दगी की अचानक कब शाम आ जाए,
कुछ ख़बर नहीं, किस को कब क्या फ़रमान आ जाए,
जीते जी हर लम्हें को ईश्वर की सौगात समझ लो,
मुस्कुरा लो खुद, कुछ मुस्कान औरों को भी बाँट लो,

जीवन का अंत किस उम्र में होगा इसका कोई पैमाना नहीं,
आपका सुपूत आपको कन्धा देगा या आप उसे, इसका भी कोई ठिकाना नहीं,
जीने की कैसी रही होगी ललक उन मासूम बच्चों में,
जो जीने के लिए कूद गये और मौत को गले लगा गए,

आँखों के सामने खो दिए जिन्होंने अपने लाल,
क्या बेबसी महसूस की होगी उन पालनहारों ने!
क्या बेटा, क्या बेटी,
कैसा फ़र्क बचा होगा उन परिवारों में?

जीवन को अब तो खुली आँखों से देख लो,
छोड़ो नफ़रत, शिकायत, अट्टाहस औरों के लिये,
इंसान का इंसान की तरह बस सम्मान कर लो,

ख़ुश रहो, कृतज्ञ रहो, चाहे जो भी मिला हो ज़िन्दगी में,
एक ज़िन्दगी मिली है आपको, इसीका अहसान मान लो।
जीते जी हर लम्हें को ईश्वर की सौगात समझ लो,
मुस्कुरा लो खुद, कुछ मुस्कान औरों को भी बाँट लो,

सूरत में हुए भयंकर अग्निकांड में हुई बच्चों की क्षति एक अकल्पनीय, दुःखद और दर्दनाक घटना है.. मन स्तब्ध है, ..भगवान सबको मदद करें!🙏

 



 


Leave a Reply