hqdefault

मांगी हुई खुशियों से

मांगी हुई खुशियों से,
किसका भला होता है,
मंजिल यूँ ही नहीं मिलती (The destination does not get you only)

/> किस्मत में जो लिखा होता है,
उतना ही अदा होता है,
न डर रे मन दुनिया से,
यहाँ किसी के चाहने से,
नहीं किसी का बुरा होता है,
मिलता है वही,
जो हमने बोया होता है,
कर पुकार उस प्रभु के आगे,
क्योंकि सब कुछ उसी के बस में होता !

Leave a Reply