इतनी मेहरबानी मेरे ईश्वर


इतनी मेहरबानी मेरे ईश्वर
बनाये रखना।
जो रास्ता सही हो उसी पर
चलाये रखना।
न दिल दुखे किसी का
मेरे कार्य से शब्दों से,
इतनी रहम तू मेरे भगवान
मुझपे बनाये रखना
ना हथियार से मिलती है ,
ना अधिकार से मिलती है ,
दिलो में जगह सिर्फ..
अपने व्यवहार से मिलती है.

Post Comments


Leave a Reply