progress

अच्छे लोगों की इज्जत

अच्छे लोगों की इज्जत
कभी कम नहीं होती

सोने के सौ टुकड़े करो,
फिर भी कीमत
कम नहीं होती।

भूल होना “प्रकृत्ति” है,
मान लेना “संस्कृति” है,
और उसे सुधार लेना “प्रगति” है.

Leave a Reply