quality-500958_960_720

मैं खुश हूँ कि कोई मेरी.

मैं खुश हूँ कि कोई मेरी…
बात तो करता है….

बुरा कहता है तो क्या हुआ…
वो याद तो करता है ….

कौन कहता हैं की नेचर और सिग्नेचर कभी बदलता नही

बस एक चोट की ज़रूरत हैं

अगर ऊँगली पे लगी तो सिग्नेचर बदल जाता है,
और दिल पे लगी तो नेचर बदल जाता है।

Leave a Reply