0513e343ee6680754496d6a96752162f06434a-wm

बिखरने के तो लाख

बिखरने के तो लाख बहाने मिल जायेगे
आओ हम जुड़ने के अवसर ढूंढे….

यह जरूरी नही कि हर शख्स हमसे मिलकर खुश हो
मगर हमारा प्रयास यह रहे कि ,हमसे मिलकर कोई दुखी न हो .

Leave a Reply