रिश्ते कभी भी "कुदरती" मौत नहीं मरते (Relationship never die of "Naturally"death)

रिश्ते कभी भी “कुदरती” मौत नहीं मरते (Relationship never die of “Naturally”death)

रिश्ते कभी भी “कुदरती” मौत नहीं मरते (Relationship never die of “Naturally”death) इनको हमेशा “इंसान” ही क़त्ल करता है, “नफ़रत” से, “नजरअंदाजी” से, तो कभी “गलतफ़हमी” से.

" रिश्ता "(Relation)  और  " भरोसा "(Trust)

” रिश्ता “(Relation) और ” भरोसा “(Trust)

” रिश्ता “(Relation) और ” भरोसा “(Trust) दोनो ही दोस्त हे…! ” रिश्ता ” रखो या ना रखो… किंतु…. ” भरोसा ” जरूर रखना..! क्युं की जंहा ” भरोसा ” …

Read More “” रिश्ता “(Relation) और ” भरोसा “(Trust)”

relationships

કોણ કહે છે..

કોણ કહે છે……
આજે મન મનમાં વેર છે,
સંબંધો ની સુવાસ ઠેર ઠેર છે .

“સંબંધો” તો ઈશ્વર ની દેન છે,
બસ નિભાવવાની રીતોમાં
? થોડો થોડો ફેર છે. ?

Mahatma Gandhi

जन्म से ना तो कोई दोस्त

जन्म से ना तो कोई दोस्त पैदा होता है और ना ही दुश्मन, वह तो हमारे घमंड, ताकत या व्यवहार से बनते है।

ज़िंदगी को अगर खुल कर जीना है तो थोडा सा झुक कर जियो, तब देखो फिर, ये ईश्वर आपको कितना ऊँचा उठा देंगा..