Change yourself not others

Change yourself not others

Change yourself not others

इंसान घर बदलता है, लिबास बदलता है,
रिस्ते बदलता है,
दोस्त बदलता है,
फिर भी परेशान क्यो रहता है
क्योक

This is called life

This is called life

पैर में से काँटा निकल जाए तो..
चलने में मज़ा आ जाता है,
और मन में से अहंकार निकल जाए तो..
जीवन जीने में मज़ा आ जाता है..
चलन