पीपल के पत्तों जैसा मत (Do not be like the leaves of Peepul)

पीपल के पत्तों जैसा मत (Do not be like the leaves of Peepul)

पीपल के पत्तों जैसा मत बनो (Do not be like the

leaves of Peepul)
जो वक्त आने पर
सूख कर गिर जाते है
बनना है तो मेहँदी के पत्तों जैसा
बनो
जो पिसकर भी
दूसरों की जिंदगी में
रँग भर देते है।

Leave a Reply