जब कोई “हाथ” और “साथ”(When someone "hands" and "together")

जब कोई “हाथ” और “साथ”(When someone “hands” and “together”)

जब कोई “हाथ” और “साथ”(When someone “hands” and “together”)
दोनों

ही छोड़ देता है,
तब “कुदरत” कोई न कोई
उंगली पकड़ने वाला भेज देता है,
इसी का नाम “जिदंगी” है…!!
मुस्कुरा कर चलते रहिए..!!
सहयोग एक बहुत ही महंगी चीज़ है
इसकी हर किसी से उम्मीद न रखे
क्योकि,
बहुत ही कम लोग दिलके धनवान होते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.