कोशिश (Try)करो की कोई हम से न रूठे (Resent)

कोशिश (Try)करो की कोई हम से न रूठे (Resent)

कोशिश (Try)करो की कोई हम से न

रूठे (Resent) !
जिन्दगी में अपनों का
साथ न छूटे !
रिश्ते कोई भी हो उसे
ऐसे निभाओ !
कि उस रिश्ते की डोर ज़िन्दगी भर न छूटे.

One Reply to “कोशिश (Try)करो की कोई हम से न रूठे (Resent)”

  1. Hi there i am kavin, its my first time to commenting anywhere, when i
    read this paragraph i thought i could also create comment due to this good
    article.

Leave a Reply